Advertisment

दुनिया का सबसे महंगा आम ! इस आम की कीमत जानकर हैरान हो जाओगे आप, MP के इस किसान ने कर दिया कमाल

जबलपुर के किसान ने उगाई दुनिया की सबसे महंगी आम की किस्म!

New Update
 दुनिया का सबसे महंगा आम ! इस आम की कीमत जानकर हैरान हो जाओगे आप, MP के इस किसान ने कर दिया कमाल
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

जबलपुर, मध्य प्रदेश में रहने वाले एक किसान ने पूरी दुनिया को चौंका दिया है. जी हां, जबलपुर के रहने वाले संकल्प सिंह परिहार ने दुनिया के सबसे महंगे आम 'ताय्यो नो तामांगो' की खेती कर नया रिकॉर्ड बनाया है. आम की तो कई किस्में भारत में पाई जाती हैं, लेकिन मध्य प्रदेश के इस किसान ने कुछ खास कर दिखाया है.

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Oppo के जले पर नमक छिड़कने आया Samsung का लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से लैस स्मार्टफोन, कम कीमत में मिल रहे बोरा भर फीचर्स

दुनिया का सबसे महंगा आम उगाया जबलपुर के किसान ने

दरअसल, दुनिया का सबसे महंगा आम 'ताय्यो नो तामांगो' मुख्य रूप से जापान के क्यूशू प्रांत के मियाजाकी शहर में उगाया जाता है. मगर अब मध्य प्रदेश के जबलपुर के साथ-साथ बिहार के पूर्णिया जिले के एक किसान ने भी इसकी खेती कर ली है. आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस आम की कीमत 2.7 लाख रुपये प्रति किलो है. वहीं, भारत में 'ताय्यो नो तामांगो' की एक किलो आम की कीमत करीब 21 हजार रुपये है.

Advertisment

पेड़ पर पहरे के लिए तैनात हैं कुत्ते!

आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के सबसे महंगे आम 'ताय्यो नो तामांगो' के पेड़ पर न सिर्फ चौकीदार पहरा देते हैं बल्कि खतरनाक कुत्ते भी तैनात किए जाते हैं. इसकी वजह ये है कि इतने महंगे आम को कोई चुरा न ले.

संकल्प सिंह परिहार ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि 'ताय्यो नो तामांगो' आम की कीमत 2.5 लाख रुपये प्रति किलो से शुरू होती है.

Advertisment

यह भी पढ़िए :- 20 May rashifal: 20 मई के सितारे इन राशियों के लिए लाएंगे बड़ा तोहफा ! इन राशियों के जातको को रहना होगा संभलकर देखे राशिफल

इतना महंगा क्यों है ये आम?

आपके मन में ये सवाल उठना लाजमी है कि आखिर इस आम की खासियत क्या है जो इतनी ऊंची कीमत पर बिकता है? तो आपको बता दें कि 'ताय्यो नो तामांगो' आम का रंग लाल और पीले रंग का मिश्रण होता है, जो सूर्य के अंडे (जापानी में सूर्य को 'ताय्यो' कहते हैं) जैसा दिखता है. इसका स्वाद मीठा और रसदार होता है, साथ ही इसमें हल्की सी खटास भी होती है. आम की दूसरी किस्मों के मुकाबले इसमें रेशे कम होते हैं, जिस वजह से इसका ग pulp नरम और मलाईदार होता है.

गौर करने वाली बात ये है कि ये आम मुख्य रूप से सिर्फ जापान में ही उगाया जाता है और इसकी मात्रा भी बहुत कम होती है. एक पेड़ साल में सिर्फ 2-3 दर्जन आम ही देता है. इसकी खेती बहुत सावधानी और खास देखभाल के साथ की जाती है, जिसके लिए विशेष तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है. यही वजह है कि 'ताय्यो नो तामांगो' आम इतना महंगा बिकता है.

Advertisment
Latest Stories