Advertisment

ASI Survey Bhojshala Temple: अब भोजशाला के सर्वे को लेकर केके मुहम्मद का ये बड़ा बयान कहा, कि मुस्लिम के लिए ...

ASI Survey Bhojshala Temple: मध्य प्रदेश मे काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा का ईदगाह के तरह भोजशाला का मामला सामने आया है । जिस मामले को लेकर इंदौर के हाईकोर्ट बेंच ने अपना आदेश दिया है ।

author-image
By Pooja Sen
New Update
K

ASI Survey Bhojshala Temple: Now this big statement of KK Muhammad regarding the survey of Bhojshala Temple, said that for

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00
जिसमे बेंच ने भोजशाला के पर एक बार फिर सर्वे करने का आदेश दिया है । जिसके बाद फ्राइडे को भोजशाला का सर्वे शुरू हो गया है। इसी बीच भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के पूर्व अधिकारी पद्मश्री केके मुहम्मद ने बड़ा बयान दिया है । 
Advertisment
Advertisment

ये बोल गए केके मुहम्मद

 बता दे की मध्य प्रदेश में काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा का ईदगाह के तरह धार भोजशाला का मामला सामने आया है । जिस मामले को लेकर इंदौर के हाईकोर्ट बेंच ने अपना आदेश दिया है। जिसमे बेंच ने भोजशाला के पर एक बार फिर सर्वे करने का आदेश दिया है । इसी बीच भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के पूर्व अधिकारी केके मुहम्मद ने कहा है कि  काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और मथुरा का ईदगाह दोनों को हिंदू मंदिर को तोड़कर बनाया गया है। इसलिए अब भारत के मुसलमानों की बारी है  कि वो हिंदुओं को ये सौंप भाईचारे का परिचय दें । जो इस्लाम धर्म के सिद्धांतों को जीतने मे मदद करेगा ।
Advertisment

अयोध्या विवाद को हाल करने मे निभाई मुख्य भूमिका

आपको  बता दे कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के पूर्व अधिकारी केके मुहम्मद ने भारत के सबसे विवदित मुददे अयोध्या विवाद सुलझाने मे मुख्य  भूमिका निभाई है । 

 
मुसलमानों के मक्का-मदीना की तरह है हिन्दू के लिए 

पूर्व अधिकारी केके मुहम्मद ने आगे कहा की  'जिस तरह से मुसलमानों के लिए मक्का-मदीना है, ठीक उसी तरह से हिन्दू के लिए भोजशाला जरूरी हैं। अब मुसलमानों को चाहिए कि वो एक हिंदू का दर्द समझे , यदि वो हिंदू के दर्द को  नहीं समझेंगे तो मुसलमान  भारत में रहने के लायक नहीं हैं। केके मुहम्मद ने आगे कहा की मे पश्चाताप कर रहा हूं कि एक महमूद गजनवी ने हिंदुस्तान के मंदिरों को तोड़ा, एक मुहम्मद यानी मैं आज ऐसे ही मंदिरों को संवार कर पश्चाताप की राह पर हूं।

 डर से सच बोलना नहीं छोडूंगा 

आगे केके मुहम्मद ने कहा की मे फतवा के डर से सच  बोलना नहीं छोडूंगा । 'आज भी केरल में अपने घर में सरकार की ओर से दी गई सुरक्षा के दायरे में रहता हूं। मेरे खिलाफ फतवा है कि मुझे कब्रिस्तान में जगह नहीं देंगे, कोई बात नहीं, मेरी मृत देह मेडिकल काॅलेज को दान कर दूंगा। यह भी सच है कि मुस्लिम समुदाय के लोग मुझे छोड़ेंगे नहीं, लेकिन फतवों के डर से सच बोलना तो नहीं छोड़ सकता हूं।'
Advertisment
Latest Stories