Advertisment

Chhatarpur: डी सेंट इंग्लिश स्कूल पहुंचकर मंत्री दिलीप अहिरवार ने बेजुबान पक्षियों के लिए पेड़ों पर टांगे सकोरे

स्कूल परिसर में लगे पेड़ों में दर्जनभर से अधिक सकोरे बेजुबान पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए टांगे  और सन्देश दिया कार्यक्रम की संचालिका श्रद्धा नागायच ने बताया कि यह समर कैंप हर वर्ष 1 मई से शुरू होकर 30 मई तक चलता है. 

New Update
डी सेंट इंग्लिश स्कूल पहुंचकर मंत्री दिलीप अहिरवार ने बेजुबान पक्षियों के लिए पेड़ों पर टांगे सकोरे
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Chhatarpur/संवाददाता संदीप सेन:- प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी डी सेंट इंग्लिश स्कूल में समर कैंप आयोजित हो रहा है स्कूल के डायरेक्टर अशोक दुबे ने बताया की जिसमे बच्चे बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं अयोजन में खेलकुद के साथ-साथ अनेक विधाओ जैसे संगीत, नृत्य ,योग ,श्लोक पाठ, खेल, कला और शिल्प ड्राइंग, पेंटिंग, आत्मरक्षा, अबेकस वैदिक गणित ,स्केटिंग आदि में पारंगत हो रहे हैं विद्यालय का उदेश्य गर्मीयों की छुट्टी में बच्चों को पढाई के साथ-साथ कई हुनर ​​सिखाना और बच्चों को प्रतिभावान बनाना है.

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Ramcharitmanas: "श्रीरामचरितमानस" बनी विश्व धरोहर जय बजरंग सेना प्रभारी अर्चना नितिन उपाध्याय ने दिया 38 देशों को धन्यवाद

इस कार्यक्रम मे  मध्यप्रदेश शासन के वन मंत्री दिलीप अहिरवार भी स्कूल पहुचे और भीषण गर्मी के चलते बेजुबान पक्षियों को हर संभव पीने के लिए पानी मुहैया हो सके इसके लिए स्कूल द्वारा की गई प्यासी पक्षियों के लिए सकोरे टांगने की पहल से प्रेरित होकर मंत्री जी ने भी सकोरे टांगे मंत्री दिलीप अहिरवार बोले बेजुबान प्यासे पक्षियों के लिए पानी से भरे सकोरे स्कूल परिसर में लगे पेड़ों में दर्जनभर से अधिक सकोरे बेजुबान पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए टांगे और सन्देश दिया कार्यक्रम की संचालिका श्रद्धा नागायच ने बताया कि यह समर कैंप हर वर्ष 1 मई से शुरू होकर 30 मई तक चलता है. 

यह भी पढ़िए :- Weather Update: मध्यप्रदेश मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान, इन जिलों में लू का प्रकोप तो यहाँ चलेगी तेज हवाएं

प्रशिक्षण देने वालों में अनामिका चौरसिया, ख़ुशी अरजरिया, शुभी चौधरी, अंजलि अग्रवाल ,रिद्धि, दिवाकर यादव ,उमंग तिवारी, शुभम् सर , अर्पित सर, दानिश सर शमिल है. कार्यक्रम के संयोजन में साक्षी गुप्ता मधु अग्रवाल दिनेश श्रीवास का भी योगदान है। स्कूल के संचालक अशोक दुबे  मयूरी दुबे और प्रिंसिपल  आर के जैन सर ने बच्चों की सराहना की है।

Advertisment
Latest Stories