Advertisment

MP Nursing: एमपी में फर्जी नर्सिंग मामले को लेकर छात्रों को मिली बड़ी राहत

MP Nursing: मध्यप्रदेश में फर्जी नर्सिंग मामले को लेकर छात्रों को बड़ी राहत मिली है ∣ इस मामले में जबलपुर हाईकोर्ट ने सोमवार को इस मामले में अपना फैसला सुनाया है ∣

New Update
n

MP Nursing: Students get big relief regarding fake nursing case in MP

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

मध्यप्रदेश में फर्जी नर्सिंग मामले को लेकर छात्रों को बड़ी राहत मिली है ∣ इस मामले में जबलपुर हाईकोर्ट ने सोमवार को इस  मामले में अपना फैसला सुनाया है जहां कोर्ट ने छात्रों राहत देते हुए कहा है कि अपात्र डिफिशिएंट कॉलेज के छात्र भी परीक्षा दे सकते हैं ∣ जिसके बाद अब प्रदेश के 45 हजार नर्सिंग छात्र परीक्षा दे पाएंगे। 

Advertisment

बीते 3 साल में नहीं हुई कोई परीक्षा

आपको बता दे कि नर्सिंग फर्जीवाड़े के कारण 3 साल से नर्सिंग की परीक्षा नहीं हुई है ∣ जो छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहा है ∣

ये भी पढ़े :- MP Weather News: MP में फिर बदलेगा मौसम, तेज हवा के साथ होगी बारिश

Advertisment

ये है पूरा मामला

बता दे कि हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि वर्ष 2021-22 के छात्रों में भविष्य को ध्यान में रख ये फैसला दिया है ∣ जहां उनका पास होना जरूरी है ∣ इसके अलावा अगर छात्र फेल हो जाता है ∣ तो उन्हें भी अपात्र कॉलेजों की तरह अवैध कर दिया गया है ∣

ये भी पढ़े :- Cyber Crime: AI की मदद से बेटी आवाज निकल पिता से ऐठ लिए लाखों रुपए, जानें क्या है मामला

पिछले आदेश में कर दिया था अवैध

बता दे कि हाईकोर्ट ने अपने पिछले आदेश में सीबीआई की जांच के बाद ऐसे छात्रों को अपात्र घोषित कर दिया है ∣ जो जांच में सही नहीं पाये गए हैं ∣

Advertisment
Latest Stories