Advertisment

MP Wheather Update: खुशखबरी! समय से पहले आ रहा है मानसून, जानिए मध्यप्रदेश में कब होगी बारिश की शुरुआत

इसका मतलब है कि देश के अलग-अलग राज्यों में जल्द ही मानसून की बारिश शुरू हो जाएगी. गौरतलब है कि पिछले साल मानसून 8 जून को आया था, जबकि पूरे भारत को 2 जुलाई तक कवर कर लिया था.

New Update
खुशखबरी! समय से पहले आ रहा है मानसून, जानिए मध्यप्रदेश में कब होगी बारिश की शुरुआत
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Advertisment

MP Wheather Update: भीषण गर्मी से जूझ रहे लोगों के लिए राहत की खबर है! साथ ही किसानों के लिए भी बहुत जरूरी खबर ये है कि इस साल मानसून की एंट्री तय समय से 5 दिन पहले होने वाली है। मानसून 2024 की गति को लेकर अब तक जो आंकड़े मिले हैं, उनके मुताबिक मानसून जल्द ही भारत में प्रवेश करेगा। इसका मतलब है कि देश के अलग-अलग राज्यों में जल्द ही मानसून की बारिश शुरू हो जाएगी. गौरतलब है कि पिछले साल मानसून 8 जून को आया था, जबकि पूरे भारत को 2 जुलाई तक कवर कर लिया था.

यह भी पढ़िए :- Petrol Diesel Price Today: भारतीय तेल कम्पनियो ने पेट्रोल-डीजल के दामों में किया बदलाव देखे आपके शहर के ताजा दाम

Advertisment

चक्रवाती तूफान का मानसून पर नहीं पड़ा असर

रविवार देर रात बंगाल की खाड़ी में उठे भीषण चक्रवाती तूफान रिमाल ने पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तटों को प्रभावित किया था। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, आम तौर पर जब कोई तूफान सक्रिय होता है, तो वो नमी अपनी ओर खींच लेता है। अगर तूफान को तट पार करने में 4-5 दिन लग जाते हैं, तो मानसून 2024 कमजोर पड़ जाता है। लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ.

Advertisment

तूफान तो बना लेकिन दो दिन के अंदर ही तट से टकरा गया और तेजी से निकलने के कारण बंगाल की खाड़ी में नमी बची रही। इसका मानसून 2024 की रफ्तार पर कोई असर नहीं पड़ा। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मानसून आने से ठीक पहले आया तूफान रिमाल का भारत में दक्षिण-पश्चिम मानसून मानसून 2024 की आने की तारीख पर कोई विपरीत असर नहीं पड़ेगा.

चक्रवाती तूफान की वजह से मानसून में तेजी

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार, चक्रवाती तूफान के कारण मानसून की धाराएं मजबूत हुईं और मानसून रेखा उन हिस्सों में 10 दिन पहले पहुंच गई, जहां 5 जून तक पहुंचनी थी। इस बीच, मानसून के बादलों का पहला जत्था अरब सागर में पहुंच चुका है। वहां मानसून के आगमन के लिए तेजी से वातावरण अनुकूल बन रहा है.

समय से पहले केरल पहुंचेगा मानसून

मौसम विभाग का पूर्वानुमान बताता है कि अगले तीन दिनों तक यही स्थिति बनी रह सकती है। ऐसे में, उम्मीद की जा रही है कि मानसून अगले 3-4 दिनों में केरल में दस्तक दे सकता है, यानी मानसून 2024 आईएमडी की पहले बताई गई तारीख 31 मई से एक-दो दिन पहले 28 या 29 मई 2024 को केरल पहुंच जाएगा.

तेजी से आगे बढ़ेगा मानसून

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, केरल में मानसून आने के बाद मानसून बहुत तेजी से आगे बढ़ सकता है, क्योंकि बंगाल की खाड़ी में मानसून 2024 की रफ्तार पहले से ही काफी तेज है। इस वजह से अनुमान लगाया जा रहा है कि मानसून तय तारीखों से पहले भारत के अन्य राज्यों में पहुंच जाएगा.

यह भी पढ़िए :- सिर्फ 12,000 में 108MP कैमरे के साथ टेक बाजार में धमाल मचाने आ रहा Redmi का 5G स्मार्टफोन कमाल फीचर्स और कर्रा लुक

मानसून सीजन में 106 प्रतिशत बारिश का पूर्वानुमान

15 मई को, आईएमडी ने केरल 2024 में मानसून शुरू होने की तारीख 31 मई बताई थी। जबकि सामान्य मानसून आने की तारीख 1 जून होती है। इस बार, आईएमडी ने जून से सितंबर तक मानसून सीजन के दौरान सामान्य से 106 प्रतिशत अधिक बारिश होने का अनुमान लगाया है.

मौसम विभाग करेगा नई तारीखों की घोषणा

नवीनतम मौसम स्थितियों की समीक्षा के बाद आईएमडी सोमवार को अपना संशोधित पूर्वानुमान जारी कर सकता

Advertisment
Latest Stories