Advertisment

Pandhurna News: जिला कलेक्टर अजयदेव शर्म को नाराज तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ शिक्षको ने पुनः सौंपा ज्ञापन

3 माह पूर्व 15 सूत्रीय मांगो का सौंपा था,ज्ञापन की एक भी मांग पूर्ण नही होने से नाराज है तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ के शिक्षक?

New Update
जिला कलेक्टर अजयदेव शर्म को नाराज तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ शिक्षको ने पुनः सौंपा ज्ञापन
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Pandhurna News/संवाददाता गुड्डू कावले पांढुरना: विगत 3 माह पूर्व 15 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर इंगले के नेतृत्व में जिला कलेक्टर अजयदेव शर्म को सौपा था जिसमे पांढुरना जिला कर्मचारियों की समस्याओं के बारे मे 15 सूत्रीय बिंदुवार मांग का निराकरण करने की गुहार लगाई थी। परन्तु  कोई समस्या का समाधान नही किया गया।बुधवार की दोपहर जिला कलेक्टर से पुनः भेट कर  कर्मचारियों की समस्या से अवगत कराते हुवे ज्ञापन सौंपा साथ ही जिले के कर्मचारियों की समस्या हल करने हेतु परामर्श दात्त्री समिति की प्रति 3 माह में बैठक का आयोजन किया करने की मांग की है।

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Pandhurna: चालक और आशा कार्यकर्ता की सूझ बूझ से जननी एक्सप्रेस के अंदर महिला का सुरक्षित प्रसव

ज्ञापन सौंपने तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर इंगले,जिला सचिव रामगोपाल भोयर,कोषाध्यक्ष ज्ञानेश्वर जिचकर, तहसील अध्यक्ष शेषराव रेवतकर, सहित ओंकार शाहू तहसील अध्यक्ष नांदनवादी ,गणेश दुःखी ब्लाक अध्यक्ष,जग्गूलाल उइके सचिव नंदनवादी प्रमुख रूप से उपस्थित थे

यह भी पढ़िए :- Pandhurna: कृषि भूमि के ईकेवायसी आधार लिंक का किये जाने की जिला कलेक्टर ने कार्यों का किया आकस्मिक निरीक्षण

तृतीय श्रेणी कर्मचारी संघ की यह है मांग

  1. माह जुलाई 2023 को कक्षा उरी पढ़ाने वाले शिक्षको का एफ एल एन का प्रशिक्षण हुआ था किन्तु आज तक पांदुरना जिले के कर्मचारियों को मानदेय एवं यात्रा भत्ता की राशि शिक्षकों के खाते में नहीं आयी। जिसे शीघ्र प्रदान करें।
  2. केजी -1. केजी-2 एवं कक्षा 1ली. 2री पढ़ाने वाले शिक्षको का रिफ्रेशर का प्रशिक्षण 33 कुल 6 दिन का प्रशिक्षण हुआ था। वह राशि भी आज तक अप्राप्त है।विगत दो वर्षों से जन शिक्षक एवं बी.ए.सी. को यात्रा भत्ता नहीं दिया गया है। जिससे उन्हे शालाओं का निरिक्षण करने में असुविधा होती है।
  3. दिव्यांग बच्चों के मूल्यांकन हेतु 10 अक्टुबर 2023 को शिक्षकों का एक दिवसीय प्रशस्त दिव्यांग
    मूल्यांकन शिविर का आयोजन किया था। किन्तु आज तक शिक्षकों का राशि अप्राप्त है। जिलास्तरीय ऑलम्पियाड परीक्षा आ आयोजन किया गया था। जिसमें बच्चों के साथ पालको को आने-जाने एवं भोजन का प्रावधान था। किन्तु आज तक बच्चों को एवं पालकों को राशि नहीं दी गई।
  4. जनशिक्षा केन्द्र पर प्रतिवर्ष कन्टेंजेंसी की राशि आती है जो विगत 02 वर्षों से नहीं आयी। शीघ्र प्रदान की जाये।
  5. राज्य शिक्षा केन्द्र पर प्रतिनियुक्त कर्मचारियों का वेतन माह की 1 ली तारिख को किया जाये। जो हर माह विलंब से होता है।
  6. विभिन्न संकुलो में शिक्षकों से लिपिकीय कार्य लिया जा रहा है। वह बंद किया जाये। ताकि
    शाला में शिक्षकों की कमी दूर होकर शैक्षणिक स्तर में सुधार हो सके। शिक्षकों से गैर शैक्षणिक कार्य (बीएलओ) से मुक्त किया जाये। जिससे बच्चों के शैक्षणिक स्तर में सुधार हो सके ।
  7. कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति के दिन ही सम्पूर्ण क्लेम प्रदान किये जावे। अध्यापक संवर्ग को अन्य जिले के भांति 12वर्ष एवं 24 वर्ष की क्रमोन्नति शीघ्र प्रदान की जावे।
Advertisment
Latest Stories