Advertisment

Pandhurna: शासकीय अस्पताल में त्वरित इलाज नहीं मिलने से आक्रोशित शहरवासियो ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

अस्पताल संचालन के लिए पर्याप्त संशाधनो की कमी होने से अस्पताल में त्वरित इलाज नहीं हो पा रहा है। प्रशासनिक स्तर पर सिविल अस्पताल को प्रभावी तरिके से नियंत्रण नहीं किया जा रहा है। रोजाना घटनाएं बड़ रही है।

New Update
शासकीय अस्पताल में त्वरित इलाज नहीं मिलने से आक्रोशित शहरवासियो ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Pandhurna/संवाददाता गुड्डू कावले पांढुरना:- शहर के सैकड़ों युवाओं ने बुधवार की दोपहर शहर के शिवाजी चौक पर एकत्रित होकर नारेबाजी के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंचकर जिला कलेक्टर अजयदेव शर्मा एसडीएम नेहा सोनी को ज्ञापन सौंपा और शहर बताया जिला बना है परन्तु स्वास्थ्य सेवाएं जस की तस है।शहर का शासकीय अस्पताल100 बेड से संचालित है। परन्तु विशेषज्ञ डाक्टर एवं सहायक स्टाफ कार्यरत भी है। अस्पताल संचालन के लिए पर्याप्त संशाधनो की कमी होने से अस्पताल में त्वरित इलाज नहीं हो पा रहा है। प्रशासनिक स्तर पर सिविल अस्पताल को प्रभावी तरिके से नियंत्रण नहीं किया जा रहा है। रोजाना घटनाएं बड़ रही है।

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Pandhurna: कलेक्टर ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में पांढुर्णा एवं सौंसर अनुभाग के समस्त विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारियों को सख्त निर्देश

सिविल अस्पताल प्रबंधन पुरी तर से व्यवसायीक दृष्टिकोण रखता है।आम जनता को ना केवल परेशानी हो रही है, बल्कि मासुम बच्चों की जान तक जा रही है। जिसका ताजा उदाहरण चन्द्रशेखर पिता देवराव कोल्हे की भांजी चेतन लेडे के पुत्र हार्दिक गजेन्द्र लेंडे को सर्प के काटे जाने से शासकीय सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। स्टाफ को हार्दिक को सांप ने काटा जिसकी जानकारी दिये जाने के उपरान्त भी समय पर इलाज नहीं मिलने से हार्दिक की मृत्यु हो गई है। मौके पर मौजुद प्रत्यक्षदर्शीयों द्वारा विडियों रिकार्डिंग भी की गई है।

यह भी पढ़िए :- Rewa News: पुलिस ने एक हाई प्रोफाइल तरीके से की गई चोरी का किया खुलासा,आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने एक ट्रक, कार सहित लाखों कि पाइप कि बरामद

जिससे स्पष्ट होता है कि, सिविल अस्पताल के मौके पर मौजुद डॉक्टर एवं स्टाफ द्वारा घोर लापरवाही बरती गई है। एवं मासुम हार्दिक की जान से खिलवाड किया गया है। इसके उपरान्त भी आज दिनांक तक संबंधितों के विरुद्ध प्रशासनिक स्तर पर जाँच/कार्यवाही नहीं की गई है। जो मानवता को शर्मशार कर रहा है। सैकड़ों युवाओं ने तत्काल मामले की निष्पक्ष जॉच करने,संबंधितों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की मांग की है।ज्ञापन सौंपने देवा वघाले, धनंजय कामेरे,रुपेश वघाले अपेश पारस गुप्ता आदि सैकड़ों युवा उपस्थित थे

Advertisment
Latest Stories