Advertisment

Pandhurna: कलेक्टर ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में पांढुर्णा एवं सौंसर अनुभाग के समस्त विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारियों को सख्त निर्देश

समीक्षा में राजस्व विभाग, सामान्य प्रशासन विभाग, लोक निर्माण विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग से सी०एम० हेल्पलाइन की 50 दिवस से अधिक लंबित शिकायतो की विस्तृत समीक्षा करते हुये, स्वास्थ विभाग से संबंधित सी.एम. हेल्पलाइन की 50 अधिक दिवस से अधिक लंबित शिकायतो का एक सप्ताह में निराकरण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

New Update
कलेक्टर ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में पांढुर्णा एवं सौंसर अनुभाग के समस्त विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारियों को सख्त निर्देश
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Pandhurna/गुड्डू कावले पांढुरना:- पांढुरना जिला बना तब से जिला  कलेक्टर अजय देव शर्मा  निरंतर पांढुर्णा एवं सौंसर अनुभाग के समस्त विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारियों
की बैठक कर सबंधित अधिकारियो को कृषि उत्पादन, रबी फसल वर्ष 23-24 एंव खरीफ वर्ष 2024, पशुपालन, उद्यानिकी एवं आग्रेनिक / प्राकृतिक खेती, राजस्व सबंधी मामले, वृक्षारोपण एंव आदि के सबंध में आयोजित समय सीमा बैठक में 2024के लिए संतरा का क्षेत्र विस्तार के करने पर जोर दे रहे है।

Advertisment

बुधवार की दोपहर शहर मुख्यालय जिला कलेक्टर कार्यालय में कलेक्टर अजयदेव शर्मा की अध्यक्षता में जिले की तहसील पांढुर्णा एवं सौंसर अनुभाग के समस्त विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारियों की समय सीमा समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया उक्त समीक्षा में राजस्व विभाग, सामान्य प्रशासन विभाग, लोक निर्माण विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग से सी०एम० हेल्पलाइन की 50 दिवस से अधिक लंबित शिकायतो की विस्तृत समीक्षा करते हुये, स्वास्थ विभाग से संबंधित सी.एम. हेल्पलाइन की 50 अधिक दिवस से अधिक लंबित शिकायतो का एक सप्ताह में निराकरण किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

रवि वर्ष 23-24 एंव खरीफ 2024 हेतु की गई आवश्यक तैयारी

फसलो के उत्पादन एंव सुरक्षा के मापदण्डो के सबंध में उन्नत कृषि, रवी वर्ष 23-24 एंव खरीफ वर्ष 2024 हेतु विभाग व्दारा की गई आवश्यक तैयारी एंव फसल की उत्पादकता, फसलवार उर्वरक की मात्रा, रासायनिक उर्वरकों का उपयोग, सिचाई ड्रिप / स्प्रिंकलर, एंव नरवाई को जलाने को कम करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गयें।

Advertisment

आग्रेनिक / प्राकृतिक तरीके से सब्जी उत्पादन करने

जिले में उद्यानिकी की आधारभूत, फलक्षेत्र विस्तार की प्रगति, आग्रेनिक/प्राकृतिक खेती एंव आग्रेनिक तरीके से फल, सब्जी, मसाला पुष्प, एकीकृत बागवानी, लगाये जाने हेतु बडे कृषकों को उत्पादन किये जाने के सबंध में सबंधित अधिकारी को निर्देषित किया गया।
उद्यान विभाग पांदुर्णा ने जिले में वर्ष 2023-24 में विभागीय योजना से 165 हैं० एंव विभाग के प्रयास से कृषकों व्दारा संतरा का क्षेत्र विस्तार 189 हैं०, इस प्रकार कुल 391 हें0 रकबा बढ़ा है। वर्ष 2024-25 के लिये विभागीय योजना एंव कृषकों व्दारा (विभाग के प्रयास से) संतरा क्षेत्र का विस्तार 1000 हैं०, करने का लक्ष्य रखने हेतु निर्देशित किया गया

मत्स्य आहार संयंत्र एंव पशुपालन की योजनाओं एंव टीकाकरण

Advertisment

जिले मे मत्स्य आहार संयंत्र की स्थापना, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के सबंध में चर्चा कर ईकाई स्थापित करते हुये उत्पादन क्षमता को बढ़ाने जाने हेतु अधिक मात्रा में संयत्र किये जाने एंव जिले के बाहर आहार का विकय किये जाने के सबंध में सबंधित अधिकारी को निर्देशित किया गया।
समीक्षा के दौरान चर्चा करते हुये जिले में चलित पशु ईकाई, पशु उपचार, पशु टीकाकरण, विभागीय योजनाओं के सबंध में चर्चा करते हुये मुख्यमंत्री गौसेवा योजना अंतर्गत निर्माण कार्य को पूर्ण एंव गौशाला के अनुदान भुगतान संबंधी शेष न हो सबंधित अधिकरियो को निर्देशित किया गया।

वृक्षारोपण / जल संरक्षण

वृक्षारोपण के सबंध में भूमि चिहिन्त की जाकर पर्यावरण के प्रति प्रोत्साहित करते हुये अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पांढुर्णा / सौसर, अनुविभागीय अधिकारी वन, मुख्य नगर पालिका अधिकारी पांढुर्णा / सौसर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी पांढुर्णा / सौसर को वृक्ष लगाये जाने एंव प्रत्येक विभाग के विभाग प्रमुख को वृक्षारोपण स्थलों के प्रभारी अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त एंव जिला स्तर पर पर्यावरण के स्वरूप और संरक्षण हेतु जनभागीदारी से सहयोग लिये जाने के सबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

Advertisment
Latest Stories