Advertisment

Pandhurna: कृषि भूमि के ईकेवायसी आधार लिंक का किये जाने की जिला कलेक्टर ने कार्यों का किया आकस्मिक निरीक्षण

जिले के प्रत्येक कृषि भूमि धारक को समग्र पोर्टल से भूमि लिंक को समग्र पोर्टल से भूमि लिंक करते हुये आधार से ईकेवायसी से कराया जाना है। इसके लिये विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

New Update
aaa
Listen to this article
00:00 / 00:00

Pandhurna/संवाददाता गुड्डू कावले पांढुरना:- जिले के प्रत्येक कृषि भूमि धारक को समग्र पोर्टल से भूमि लिंक को समग्र पोर्टल से भूमि लिंक करते हुये आधार से ईकेवायसी से कराया जाना है। इसके लिये विशेष अभियान चलाया जा रहा है। प्रत्यके ग्राम पंचायत में कृषि भूमि का इंकेवायसी कर बीवी ने की व्यवस्था की गयी है। अन्य विभागों के विकास खण्ड स्तरीय अधिकारी, नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। नगरीय क्षेत्र में रहने वाले नागरिक जिनके पास जिले में कहीं भी कृषि भूमि है। वह अपना ईकेवायसी नगरपालिका, नगर परिषद के कायर्यालय में जाकर करा सकते हैं।

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Pandhurna: चालक और आशा कार्यकर्ता की सूझ बूझ से जननी एक्सप्रेस के अंदर महिला का सुरक्षित प्रसव

कृषि भूमि का आधार से लिंक कराने हेतु आवेदक को भू-अधिकार ऋण पुस्तिका, खसरे की प्रति, आधार कार्ड एंव समग्र की जानकारी लेकर सबंधित ग्राम पंचायत एवं नगरीय निकाय के कार्यालय में कराए। वर्तमान स्थिति में जिले में 87, 404 कुल कृषि खातों का ईकेवायसी से आधार लिंक कराया जा चुका है। पांढुर्णा जिला ईकेवायसी में प्रथम स्थान पर है, 'किन्तु जिन कृषकों ने नहीं कराया है। उनके लिये विशेष अभियान चलाया गया है। इसी तारतम्य में नोडल अधिकारियों को बैठक आयोजित की गया।

यह भी पढ़िए :- Chhatarpur news: आईटीआई फिटर ट्रेड में प्रीति को मिला प्लेसमेंट,अब घर की जिम्मेदारियों के साथ सपनों को कर रहीं पूरा

जिसमें पडलअधिकारी के साथ अनुविभागीय अधिकारी (रा.) पांडुर्णा, सौसर, तथा तहसीलदार, नायब तहसीलदार पांढुर्णा, सौसर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित रहे। कलेक्टर द्वारा ग्राम पंधराखेडी तथा नगर परिषद मोहगांव जाकर कृषि भूमि के ईकेवायसी आधार लिंक का किये जाने वाले कार्यों का अकास्मिक निरीक्षण कर निर्देशित किया गया कि कृषि भूमि के खाते जो बी-1 में संधारित किये जाते है। उसमें ईकेवायसी से छूटे हुये खाताधारको को कोटवारों से सूचना कर बुलाये जाने के निर्देश उपस्थित अधिकारियों एंव कर्मचारियों को दिये गये। उद्यानिकी विभाग की ओर से जिले में नयी फसलों का नवाचार करते हुए जिले के किसानों द्वारा पिंक ताइवान अमरूद का रोपण किया

Advertisment