Advertisment

Dewas: किशोर पीढ़ी के स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए अमलतास में हुई व्याख्यान माला

अस्पताल के डीन डॉ. ए.के. पीठवा द्वारा बताया गया कि डॉ. पूनम भाटिया जी गत 30 वर्षो से किशोर पीडी का मार्गदर्शन कर रहे एवं  अमलतास अस्पताल में दिए गए व्याख्यान के लिए आभार व्यक्त किया | आयोजित कार्यक्रम में, निदेशक डॉ. प्रशांत शिशुरोग के सभी चिकित्सक एवं सभी  छात्र उपस्थित थे |

author-image
By Ankush Baraskar
New Update
dewas
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Dewas/संवाददाता राम मीणा देवास :- दिनांक 05 अप्रेल 2024 को अमलतास मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल द्वारा किशोरावस्था के स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमे मुख्य अथिति एवं वक्ता डॉ. पूनम भाटिया द्वारा सभी मेडिकल , नर्सिंग कॉलेज के छात्र छात्राओं को संबोधित किया गया उनके द्वारा बताया गया की आमतौर पर किशोरावस्था में बच्चे बीमार कम पड़ते है लेकिन उनके व्यवहार में बदलाव से आने वाली उनकी मानसिक परेशानियाँ अभिभावक समझ नहीं पाते,कई बार किशोर भी इन परेशानियों को नजरअंदाज कर संभल नहीं पाते तो एसी परिस्थितियों से बचने के लिए तुरंत चिकित्सा सलाह लेना आवश्यक होता है.

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Dewas: 09 अप्रैल से मनाया जाएगा जिले में चैत्र नवरात्रि पर्व, शुरू हुई तैयारियां

जिससे चिकित्सको द्वारा उचित जांच कर स्वास्थ्य को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ किया जा सके | शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. नेहा ककानी द्वारा बताया गया की अमलतास अस्पताल में भी शिशु रोग विभाग ओपीडी में हर शनिवार को किशोरावस्था के स्वास्थ्य के लिए विशेष परामर्श दिया जा रहा है | अमलतास अस्पताल के चेयरमैन श्री मयंकराज सिंह भदौरिया द्वारा बताया गया की युवा देश के भविष्य है एवं जिसे बेहतर बनाने के लिए शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ होना बेहद जरुरी है अमलतास अस्पताल में भी सुप्रसिद्ध मनोरोग विशेषज्ञ एवं शिशुरोग विशेषज्ञ से कई मरीजो उचित परामर्श के साथ लाभान्वित किया जा रहा है। 

यह भी पढ़िए :- Harda: उपभोक्ता आयोग हरदा का आदेश, फसल बीमा राशि के लिए बैंकों की जिम्मेदारी

अस्पताल के डीन डॉ. ए.के. पीठवा द्वारा बताया गया कि डॉ. पूनम भाटिया जी गत 30 वर्षो से किशोर पीडी का मार्गदर्शन कर रहे एवं  अमलतास अस्पताल में दिए गए व्याख्यान के लिए आभार व्यक्त किया | आयोजित कार्यक्रम में, निदेशक डॉ. प्रशांत शिशुरोग के सभी चिकित्सक एवं सभी  छात्र उपस्थित थे |

Advertisment
Latest Stories