Advertisment

Harda: होलिका दहन के लिए वनों की लकडियां ना जलाकर गोबर से बने कंडे एवं कपूर का उपयोग किया जाए ओम पटेल

आजकल का पढ़ा लिखा इंसान भी अमल नहीं करता गोबर के कंडे एवं कपूर जैसी  सामग्री से पर्यावरण दूषित नहीं होता ऐसी चीजों से होलिका दहन किया जाए जिससे पर्यावरण साफ और सुंदर बना रहे होली पर्व भाईचारा और का संदेश देता है

author-image
By Ankush Baraskar
New Update
ॐ patel
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00
Advertisment

Harda/मदन गौर संवाददाता हरदा:- होलिका दहन के लिऐ आजकल अनेक प्रकार की लकडिय़ों से होली रचते है।इमारती लकडी और इंधन को बचाऐ जिससे वन खतरे मै ना हो हमेशां हराभरा रहे पर्यावरण की शुद्धता बनाए रखी जा सके। कांग्रेस जिलाध्यक्ष ओम पटेल ने अपने  जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि होली पर्व की परम्परा के साथ–साथ प्रदूषण को फैलने से रोकने के लिए हम सभी को इस दिशा में हमें अग्रसर होकर आगे आना होगा। कांग्रेस जिलाध्यक्ष ओम पटेल  ने कहा कि पर्यावरण के साथ ही पेड़ पौधों की कटाई रोकने एवं उनके संरक्षण के लिए सभी को आगे आकर पहल करना चाहिए।

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Jyotiraditya Scindia: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केजरीवाल को पढ़ाया, कुछ इस तरह से नैतिकता का पाठ

होलिका दहन के लिए शुद्धता एवं प्रदूषण से मुक्ति के लिए गाय के गोबर से बने  कंडे के साथ मै कपूर से होली जलाएं। जो हर घर में उपलब्ध है एक तरफ दीवारों पर नारा तो जोर-शोर से लिखा जाता है वृक्ष बचाओ वृक्ष लगाओ लेकिन आदमी क्षणिक भर में कुंटलो से लकड़ी जला देता है इससे क्या फायदा है पुरानी रूढ़ीवादी है जो पहले से चली आ रही है वह है. 

यह भी पढ़िए :- Ashoknagar: शक्ति केंद्र और बूथ प्रभारियों की बैठक हुई सम्पन्न, कार्यकर्ता ही पार्टी की रीठ की हड्डी होती है- विधायक बृजेन्द्र सिंह

आजकल का पढ़ा लिखा इंसान भी अमल नहीं करता गोबर के कंडे एवं कपूर जैसी  सामग्री से पर्यावरण दूषित नहीं होता ऐसी चीजों से होलिका दहन किया जाए जिससे पर्यावरण साफ और सुंदर बना रहे होली पर्व भाईचारा और का संदेश देता है यह रंग उत्सव में रंग भी केमिकल वाला नहीं लगा है जिससे किसी त्वचा खराब ना हो होली गुलाल लगाकर भी खेली जा सकती है जिले के वासियों साथियों को होली मिलन रंगउत्सव की हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई आप स्वस्थ रहो मस्त रहो

Advertisment
Latest Stories