Advertisment

Chhatarpur: थाना जुझार नगर पुलिस ने फोटोग्राफर के साथ हुई लूट की घटना का 24 घंटे के अंदर किया खुलासा, आरोपियों को भेजा जेल

घटना के दोनों अभियुक्तों को न्यायालय पेश कर जेल दाखिल किया गया तथा विधि विरुद्ध किशोर को बाल सुधार गृह संप्रेषण गृह दाखिल किया गया। शेष आरोपी की तलाश एवं विवेचना कार्यवाही जारी है उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी जुझार नगर उपनिरीक्षक राजेंद्र सिंह एवं थाना जुझार नगर पुलिस टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

author-image
By Ankush Baraskar
New Update
police
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

Chhatarpur/संवाददाता संदीप सेन :- 19 मार्च की रात्रि करीब 8:00 बजे थाना जुझार नगर में फरियादी राकेश कुशवाहा उम्र 19 साल निवासी ग्राम गिरधौरी थाना लवकुश नगर ने रिपोर्ट की कि गांव के ही एक स्टूडियो की दुकान पर शादियों पार्टियों में वीडियो ग्राफी एवं फोटोग्राफी का काम करता हूं, मेरे परिचित सोनू ने एक विवाह में कार्य करने हेतु कहा और मुझे लेने के लिए अपने साथी को मोटरसाइकिल से भेजा, मैं उसके साथ मोटरसाइकिल में बैठकर निकला तो उसके साथी रोड से गाड़ी मोड़कर एक कच्ची रास्ते में लिवा गया, मैंने उससे पूछा तो पीछे से एक अन्य मोटरसाइकिल में सवार व्यक्ति पीछे लग गए, अचानक गाड़ी रोककर मुझे घेर लिया और मेरे पैर में डंडा मारा और धमकी देते हुए मेरे पास से स्टूडियो का सामान कैमरा, बैटरी, वीडियो कैमरा, मोबाइल एवं संबंधी उपकरण सभी छीन लिया। फरियादी की रिपोर्ट में थाना जुझार नगर में अपराध क्रमांक 37/24 धारा 341 394 294 506 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश प्रारंभ कर दी गई। 

Advertisment

यह भी पढ़िए :- Loksabha Chunav 2024: कांग्रेस पार्टी छोड़ने वाले को नेताओं को नेता का तंज, कहा आज कायर सारे....

पुलिस अधीक्षक श्री अगम जैन द्वारा शीघ्र आरोपियों की गिरफ्तारी एवं अपराध खुलासे हेतु निर्देशित कर उक्त प्रकरण की समीक्षा निरंतर की जा रही थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विक्रम सिंह एवं एसडीओपी लवकुश नगर श्री नवीन दुबे के मार्गदर्शन में थाना जुझार नगर प्रभारी उप निरीक्षक राजेंद्र जाटव एवं पुलिस टीम द्वारा घटनास्थल पर पहुंचकर भौतिक निरीक्षण किए गए। फरियादी एवं साक्षियो के कथनों, एकत्रित साक्ष्य के आधार पर संदेही फरियादी के परिचित सोनू उर्फ सुनील कुशवाहा ग्राम चुरबरा को अभिरक्षा में लेकर टेक्निकल एवं साइंटिफिक तरीके से पूछताछ की गई।

पूछताछ पर फरियादी के परिचित सोनू ने अपने तीन साथियों के साथ लूट की इस घटना को कारित करना स्वीकार किया। अभियुक्त सोनू एवं उसके साथी भी महोबा के एक स्टूडियो में काम करते थे एवं स्वयं का व्यापार बढ़ाने हेतु स्टूडियो संबंधी उपकरण लूटे गए थे। मुखबिर की सूचना पर लूट के मुख्य आरोपी सोनू के दो अन्य साथियों को भी अभिरक्षा में लिया गया। लूट का दूसरा सह आरोपी सुरेंद्र यादव निवासी ग्राम चुरबरा तथा तीसरा एक विधि विरुद्ध किशोर है।

यह भी पढ़िए :- Susner: अवैध शराब जप्त सुसनेर पुलिस ने किया शराब से भरा कंटेनर जप्त

मुख्य आरोपी सोनू उर्फ सुनील कुशवाहा निवासी ग्राम चुरबरा से एक PV 100 वीडियो कैमरा ,कैमरे की दो बैटरी , डिजीटेक  चार्जर,  एलएडी लाईट Foton  Power, तीन बैटरी, एक चार्जर,  घटना में प्रयुक्त एक टीव्हीएस मोटर साईकिल नंबर UP95P9356,  एक 315 बोर का देशी कट्टा एवं कारतूस जब्त किया गया दूसरे आरोपी सुरेन्द्र यादव निवासी ग्राम चुरबरा से एक टीव्हीएस मोटर सायकिल क्रमांक UP95 J-2758 एवं एक अदद टूटा हुआ एप्पल आई फोन एक्स व प्रयुक्त एक बांस का डण्‍डा, विधि विवादित बालक से एक Nikon 5600D कैमरा, Nikon बैटरी  02, चार्जर एक , sandesk card 64 GB एवं 32 GB जप्त किया गया। घटना के दोनों अभियुक्तों को न्यायालय पेश कर जेल दाखिल किया गया तथा विधि विरुद्ध किशोर को बाल सुधार गृह संप्रेषण गृह दाखिल किया गया। शेष आरोपी की तलाश एवं विवेचना कार्यवाही जारी है उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी जुझार नगर उपनिरीक्षक राजेंद्र सिंह एवं थाना जुझार नगर पुलिस टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Advertisment
Latest Stories