संतरा फसल ओने-पौने दामों में बिकने से क्षेत्र के किसान आर्थिक तंगी से परेशान

author-image
By Himanshu Ghodki
New Update
संतरा फसल ओने-पौने दामों में बिकने से क्षेत्र के किसान आर्थिक तगी से परेशान

जिला पांढुरना- संतरा फसल ओने-पौने दामों में बिकने से क्षेत्र के किसान आर्थिक तगी से परेशान देश विदेश में बिकने वाली पांढुरना की संतरा अंबाया बाहर की फसल इस वर्ष बांग्लादेश बॉर्डर टैक्स की वृद्धि और अन्य कारणो के चलते किसानों को रुलाने को मजबूर है। ग्राम मारुड, तिगांव,हिवरापुथवीराम, एवं आसपास के क्षेत्र में किसान संतरा फसल पर निर्भर है। वर्तमान में मौसम के विपरीत प्रभाव से वर्तमान में संतरा के रेट ओने-पौने दामों जा गिरे है। किसानो का कहना है की एक और सरकार की गलत नीतियों के कारण बांग्लादेश बॉर्डर टैक्स की वृद्धि सबसे बड़ा कारण है।यहा प्रतिदिन 150-200 ट्रक सन्तरा की खपत को बॉर्डर टैक्स का ग्रहण लगा होना बताया जा रहा है।

यह भी पड़े-नए सीएम मोहन यादव की बड़ी घोषणा, अविवाहित बेटियों को भी मिलेंगा अब लाड़ली बहना योजना का लाभ करने होंगे यह काम देखे

वही व्यापार भी यहा खत्म हो गया क्षेत्र के सैकड़ो किसानों का संतरा बागानों के पेड़ो पर जस की तस लटका हुआ है। क्षेत्र का किसान स्थानीय शासन प्रशासन से आस लगा रहा है की इस बार की अंबाया बाहर संतरा फसल को कोई नीति के तहत बांग्लादेश बॉर्डर टैक्स की वृद्धि में कमी हो। किसान बताते है की विगत दिनों क्षेत्रीय नेताओ ने चुनावी माहौल में खूब लुभाने वाले वादे किए। परंतु वर्तमान परस्थिति में क्षेत्र का कोई बड़ा नेता सामने नहीं आ रहा है।

publive-image

किसानों की इस जवलंत समस्या पर किसका कोई ध्यान नहीं है।सरकार द्वारा भी किसानों की आय दुगुना करने का वादा अब वादा खिलापी में बदल रहा है।संतरा उत्पादक किसान आज दयनीय स्थिति में है जिसकी सुध लेने वाला कोई नही है। ऐसे में सरकार के दावे भी खोखले नजर आते है। सन्तरा उत्पादक किसानों को आज उनको लगने वाला खर्च तक नही निकल रहा ऐसे में अन्नदाता कहे जाने वाले किसानों की सुध लेने वाले पर प्रश्नचिन्ह है। खड़ा हो रहा है। दूसरी ओर बैंक कर्मचारियों एव बिजली विभाग द्वारा वसूली के लिए परेशान कर रहे।

publive-image

यह भी पड़े-अनानस की खेती जल्द बना देंगी मालामाल, कम लागत में देती है तगड़ा मुनाफा देखे पूरी जानकारी

क्षेत्र का किसान की आर्थिक तंगी से जूझ रहा है।ग्राम मारूड़ के किसान विनोद गावंडे ने समय रहते स्थानीय प्रशासन के पांढुरना जिला कलेक्टर अजय देव शर्मा से उम्मीद है की क्षेत्र के संतरा बागवानी किसानों की ज्वलंत समस्या की वस्तु स्थिति शासन को प्रतिवेदन प्रस्तुत कर समाधान पूरक करवाही करे ताकि क्षेत्र के किसानों के प्रति सदभाव पूर्व पहल होसके।

गुड्डू कावले की रिपोर्ट जिला पांढुरना
Latest Stories