Advertisment

Supreme Court : जिस पत्नी की मौत के आरोप में 30 साल की सजा काटी, सुप्रीम कोर्ट ने 10 मिनट में कर दिया उस सजा से बरी, जानें क्या है ये अनोखा मामला

author-image
By Pooja Sen
New Update
Supreme Court : जिस पत्नी की मौत के आरोप में 30 साल की सजा काटी, सुप्रीम कोर्ट ने 10 मिनट में कर दिया उस सजा से बरी, जानें क्या है ये अनोखा मामला
Advertisment

Supreme Court: जिस पत्नी की मौत के आरोप में 30 साल की सजा काटी, सुप्रीम कोर्ट ने 10 मिनट में कर दिया उस सजा से बरी, जानें क्या है ये अनोखा मामला कहते हैं न्याय अगर देरी से मिले तो भी अन्याय हो जाता है ∣ किसी निर्दोष को अगर सजा मिले तो इसे बड़ा कोई अपराध नहीं होता है ∣ एक ऐसा ही अनोखा मामला सामने आया है ∣
जहां एक व्यक्ति को अपनी पत्नी की मौत के आरोप में 30 साल की सजा काटी। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस पर सुनवाई करते हुए 10 मिनट पर उस व्यक्ति को सजा से बरी कर दिया।

Advertisment

ये भी पढे :-March Muhurat : यदि आप करते है शुभ अशुभ पर विश्वाश तो जानिए हमारे एक्सपर्ट से गृह प्रवेश, विवाह, मुंडन संस्कार या दुकान का उद्घाटन मुहूर्त

जानें क्या है पूरा मामला

बता दे कि सुप्रीम कोर्ट ने 1993 में एक व्यक्ति पर उसकी पत्नी की हत्या के आरोप को खारिज कर दिया है ∣ जिसमें उसे आरोपी बनाया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने जताया अफसोस इस मामले की सुनवाई करते हुए हुए सुप्रीम कोर्ट ने देश की अपराधिक प्रणाली पर अफ़सोस जताया है ∣ जिसकी सुनवाई जस्टिस जेबी पारदीवाला और जस्टिस मनोज मिश्रा ने की थी।

Advertisment

ये भी पढे :-Gaganyaan: जानें आखिर क्यों गगन यान‌ मिशन है भारत के लिए इतना जरूरी, कितने करोड़ का है ये मिशन

30 साल से आरोपी बन रहना आसान नहीं

सुप्रीम ने आगे कहा कि ये बड़ा दुखद है कि जब कोई व्यक्ति बिना किसी अपराध के 30 साल से न्याय की तलाश में भटकता रहता है ∣ ऐसे में उसे सामाजिक और आर्थिक तौर पर बहुत कुछ सहना होता है ∣ जिसका मूल्य कोई भी नहीं चुका सकता है

Advertisment
Latest Stories