Advertisment

Mukhyamantri Prasuti Sahayata Yojana: महिलाओ के लिए सूरज की किरण बनेगी यह योजना ! मिलेगी 16000 रूपये की आर्थिक सहायता जल्द करे आवेदन

गर्भवती महिलाओं के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री माता सहायता योजना के तहत ₹ 16000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है.

author-image
By Ankush Baraskar
New Update
prasti
Listen to this article
00:00 / 00:00

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के लिए विभिन्न प्रकार की जनकल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं. इन योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को कई तरह के लाभ मिल रहे हैं. गर्भवती महिलाओं के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री माता सहायता योजना के तहत ₹ 16000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है.

Advertisment

यह भी पढ़िए :- PM Kusum Yojana: इस योजना में किसानो के घर में ही बिजली बनाने के लिए सब्सिड़ी देगी सरकार

Mukhyamantri Prasuti Sahayata Yojana के लाभ

गर्भवती महिलाओं के जीवन स्तर और उनके स्वास्थ्य तथा पैदा होने वाले बच्चों के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री माता सहायता योजना शुरू की गई है. इस योजना के तहत गर्भवती महिला को ₹ 16000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है.

Advertisment

योजना का नाम: Mukhyamantri Prasuti Sahayata Yojana
शुरू करने वाली संस्था: मध्य प्रदेश सरकार
लाभ राशि: ₹ 16,000
पात्रता: गर्भवती महिलाएं
उद्देश्य: आर्थिक सहायता प्रदान करना
सहायता राशि वितरण: ₹ 6000 + ₹ 10000
आवेदन प्रक्रिया: ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट: अभी वेबसाइट उपलब्ध नहीं है। लेटेस्ट जानकारी के लिए श्रम विभाग से संपर्क करें।

इस योजना के तहत गर्भवती महिला को ₹ 6000 की आर्थिक सहायता पहले किस्त में प्रदान की जाती है. इसके बाद, बच्चों के जन्म के बाद शेष ₹ 10,000 की राशि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा महिला को दी जाती है. इस प्रकार इस योजना के तहत लाभार्थी महिला को ₹ 16000 प्रदान किए जाते हैं.

आवेदन कैसे करें?

Advertisment

मध्य प्रदेश माता सहायता योजना के तहत आवेदन पत्र जमा करने का कार्य मध्य प्रदेश महिला एवं बाल विकास कार्यालय और आंगनवाड़ी कार्यालय को सौंपा गया है. इन कार्यालयों के माध्यम से ही महिलाओं के आवेदन पत्र जमा किए जाते हैं. मुख्यमंत्री माता सहायता योजना के बारे में विस्तृत जानकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी कार्यालय और महिला एवं बाल विकास कार्यालय के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है.

पात्रता और आवश्यक दस्तावेज

इस योजना का लाभ केवल मध्य प्रदेश की महिलाओं को ही दिया जाता है.
महिला के पास समबल कार्ड या बीपीएल राशन कार्ड होना अनिवार्य है.
महिला के परिवार का कोई भी सदस्य आयकर दाता नहीं होना चाहिए.
महिला के परिवार के किसी भी सदस्य के पास सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए.
आवेदन पत्र जमा करने वाली महिला का अपना बैंक खाता होना चाहिए.

आवश्यक दस्तावेज:

आधार कार्ड
बैंक पासबुक
मतदाता पहचान पत्र
निवास प्रमाण पत्र
समबल कार्ड / बीपीएल राशन कार्ड
समग्र आईडी
पासपोर्ट साइज फोटो
मोबाइल नंबर

यह भी पढ़िए :- Bhagya Lakshmi Yojana: बेटी की पढाई से शादी तक की चिंता होगी ख़त्म !इस योजना में बेटियों को मिलेंगे 2 लाख रूपये, जल्द करे आवेदन

योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं के आवेदन पत्र आंगनवाड़ी कार्यालय और महिला एवं बाल विकास कार्यालय के माध्यम से जमा किए जाते हैं. आप अपने आंगनवाड़ी कार्यालय जाकर माता सहायता योजना के तहत आवेदन पत्र जमा कर सकती हैं. मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के लिए अभी ऑनलाइन आवेदन शुरू नहीं किए गए हैं. योजना में केवल ऑफलाइन आवेदन पत्र स्वीकार किए जा रहे हैं जिन्हें आप आंगनवाड़ी कार्यालय और महिला एवं बाल विकास कार्यालय के माध्यम से जमा कर सकती हैं.

ध्यान दें: यह जानकारी लेख में उपलब्ध कराई गई जानकारी पर आधारित है. योजना से जुड़ी ताजा जानकारी के लिए श्रम विभाग की वेबसाइट देखें या सम्बंधित कार्यालय से संपर्क करें

Advertisment