Women Led Temple : महिलाओं को कुछ मंदिरों में जाने की अनुमति नहीं है, उसी प्रकार ऐसे मंदिर भी हैं, जहां पुरुषों को भी जाने की अनुमति नहीं है :आप यहाँ का टिप प्लान कर सकते है

संतोषी माता मंदिर, जोधपुर में पुरुष शुक्रवार के दिन नहीं जा सकते। वे सिर्फ माता के दर्शन कर सकते हैं, पूजा नहीं कर सकते।

चक्कुलाथुकावु मंदिर, केरल में पोंगल के दिन पुरुष, पुजारी महिलाओं के पैर धोते हैं।

कामाख्या मंदिर, असम में महिला पुजारी होती हैं।

ब्रह्मदेव का मंदिर, राजस्थान में कोई भी शादीशुदा पुरुष नहीं जा सकता।

भगवती देवी मंदिर, कन्याकुमारी में मां भगवती की पूजा की जाती है।

आट्टुकाल देवी मंदिर, केरल में पुरुषों का आना मना है।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में एक मंदिर का नाम दर्ज है, जहां पोंगल उत्सव में 30 लाख से अधिक महिलाएं भाग लेती हैं।