ठंड के मौसम में दूध चूड़ा या दही चूड़ा एक ऐसा कॉम्बिनेशन है जो हमारे हेल्थ के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है

Credit- All pic by google

दही और चूड़े में प्रोटीन, कैल्शियम व अन्य पोषक तत्व काफी मात्रा में पाए जाते हैं. ये हमारा पेट लंबे समय तक भरा हुआ रखते हैं.

जब हमारा पेट भरा रहता है तो हमें अनावश्यक रूप से खाने की इच्छा नहीं होती है. इससे हम कैलोरी का अधिक सेवन नहीं कर पाते और वजन भी कंट्रोल में रहता है. 

दही में प्रोबायोटिक यानी अच्छे बैक्टीरिया पाए जाते हैं. ये हमारे आंतों में रहकर पाचन क्रिया को सही रखते हैं. 

इन बैक्टीरिया की वजह से दही कब्ज या पेट संबंधी अन्य समस्याओं से राहत दिलाता है.

साथ ही, दही या दूध में प्रोटीन, कैल्शियम और कई विटामिन्स पाए जाते हैं. ये सभी तत्व ऊर्जा देने वाले होते हैं 

वहीं गुड़ शरीर को ऊर्जा देता है और थकान दूर करने में मदद करता है. यह तुरंत एनर्जी बढ़ाता है. वहीं चूड़ा में फाइबर इसमें भरपूर पाया जाता है. जो आपको एनर्जी देती है.

चूड़े का फाइबर पाचन तंत्र को सही रूप से काम करने में मदद करता है और कब्ज की समस्या को दूर करता है.

दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स भूख को कम करते हैं और पेट को सही तरीके से काम करने के लिए कहते है.

दही चूड़ा वजन घटाने में मदद कर सकता है और साथ ही यह एक हेल्दी खाना है. 

दही-चूड़े रोजाना खाने से पाचन एवं दिल से जुड़ी बीमारियों में मददगार है.